Thursday , January 17 2019

सत्ता में आने से पूर्व जो वायदा किया, उसको धरातल पर साकार करने का काम किया: सीएम योगी अदित्यनाथ

लखनऊप्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने जनपद आगरा में कुल 19 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री जी द्वारा इस अवसर पर लोकार्पित परियोजनाओं में 2887.92 करोड़ रुपए की लागत से आगरा जल सम्पूर्ति (गंगाजल परियोजना), 19.95 करोड़ रुपए की लागत से महिला चिकित्सालय आगरा में 100 शैय्या के मैटरनिटी विंग का निर्माण, 15.98 करोड़ रुपए की लागत से आगरा नगर में सीवर गृह संयोजन योजना (पार्ट-2), 15.02 करोड़ रुपए की लागत से एत्मादपुर से अहारन मार्ग के रेल सम्पार संख्या 78सी पर उपरिगामी सेतु, 14.64 करोड़ रुपए की लागत से राजकीय पाॅलीटेक्निक शमशाबाद की स्थापना, 8.46 करोड़ रुपए की लागत से अतिरिक्त फल एवं सब्जी मण्डी स्थल बरौली अहीर, 7.20 करोड़ रुपए की लागत से जनपद आगरा में पुलिस लाइन में 200 व्यक्तियों की क्षमता वाली बहुमंजिला बैरक का निर्माण, 6.49 करोड़ रुपए की लागत से बाईपुर-सिकन्दरा आगरा में पशु चिकित्सा पाॅलीक्लीनिक की स्थापना, 5.50 करोड़ रुपए की लागत से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अछनेरा, 5.21 करोड़ रुपए की लागत से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खन्दौली, 4.96 करोड़ रुपए की लागत से तहसील बाह आगरा में अनावासीय भवनों का निर्माण तथा 4.89 करोड़ रुपए की लागत की एस0एन0 मेडिकल काॅलेज में प्री-फैब्रिकेटेड बायोसेफ्टी क्लास (बी0एस0एल0-3) परियोजनाएं सम्मिलित हैं।

इसी प्रकार, प्रधानमंत्री जी द्वारा 285 करोड़ रुपए की लागत से एकीकृत कमाण्ड एवं नियंत्रण केन्द्र का निर्माण, 200 करोड़ रुपए की लागत से प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (फेज-4) के अन्तर्गत एस0एन0 मेडिकल काॅलेज आगरा का उच्चीकरण, 40 करोड़ रुपए की लागत से रक्षा गलियारे के अन्तर्गत बी0ई0एल0 क्षेत्रीय उत्पाद समर्थन केन्द्र का निर्माण, 28 करोड़ रुपए की लागत से पूर्वी ताज नाले का जीर्णोद्धार का कार्य, 9.02 करोड़ रुपए की लागत से अरनौटा पिनाहट मार्ग के कि0मी0-1 से 6 तक मार्ग का चैड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य, 7.94 करोड़ रुपए की लागत से बाह ऊदी मार्ग के किमी0-6 (400) से किमी0-12 तक मार्ग का चैड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य तथा 4.95 करोड़ रुपए की लागत से हेलीपोर्ट का निर्माण आदि परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया।

प्रधानमंत्री जी ने कोठी मीना बाजार मैदान में आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि आगरा जल सम्पूर्ति परियोजना (गंगाजल परियोजना) के लागू होने से शहरवासियों को शुद्ध पेयजल मुहैया होगा। आगरा वासियों के लिए गंगाजल परियोजना वरदान साबित होगी और सबको गंगाजल पीने को मिलेगा। गंगाजल से शहरवासियों का स्वास्थ्य के दृष्टिगत आज और कल सुरक्षित होगा। शहरवासियों को प्रतिदिन लगभग 360-370 एम0एल0डी0 पानी की आवश्यकता है। गंगाजल परियोजना से 345 एम0एल0डी0 पानी उपलब्ध होगा, जबकि 145 एम0एल0डी0 पीने योग्य पानी की उपलब्धता यमुना नदी के पानी से सुनिश्चित होगी।

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि हमारा मिशन ‘सबका साथ-सबका विकास’ नई ऊंचाइयों को छू रहा है। सत्ता सम्भालने के बाद हमारी सरकार ने बिना किसी भेदभाव के समाज के हर वर्ग, गरीब, किसान व नौजवान को योजनाओं का लाभ देकर विकास की मुख्यधारा से जोड़ने का काम किया है। उन्होंने कहा कि आगरा से लेकर मथुरा तक पीने के पानी की एक गम्भीर समस्या थी। भूगर्भ जल का स्तर नीचे गिरने के साथ-साथ खारा होने के कारण आगरा का पानी पीने योग्य नहीं था। जीवनदायिनी यमुना का जल भी प्रदूषित होने के कारण पीने योग्य नहीं रहा, जिस कारण आगरावासी पानी की समस्या से जूझ रहे थे। उन्होंने कहा कि गंगाजल परियोजना से लाखों परिवारों को पीने का शुद्ध पानी मिलेगा। उत्तम स्वास्थ्य के लिए स्वच्छ पानी अति आवश्यक है। शुद्ध पेयजल गरीब परिवारों को उत्तम स्वास्थ्य की जड़ी-बूटी के रूप में पहुंचेगा, जिससे उनका जीवन स्तर सुधरेगा। नमामि गंगे परियोजना से यमुना की सफाई का कार्य भी कराया जाएगा।

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि अमृत योजना के तहत आगरा की सीवरेज योजना का कार्य कराया जाएगा, जिससे 50 हजार परिवारों को लाभ मिलेगा। 300 करोड़ रुपए की लागत से कण्ट्रोल एण्ड कमाण्ड सिस्टम का भी लोकार्पण आज किया गया है, जिसके तहत पूरे शहर में 1200 सी0सी0टी0वी0 कैमरे लगेंगे। इन सी0सी0टी0वी0 कैमरों से शहर की ट्रैफिक व्यवस्था, कूड़े-कचरे की सफाई व्यवस्था के साथ-साथ प्रत्येक गतिविधि पर नजर रखी जाएगी। सी0सी0टी0वी0 कैमरे लगने से आगरा आने वाले पर्यटक अपने आप को सुरक्षित महसूस करेंगे। शुद्ध पेयजल व सी0सी0टी0वी0 कैमरा आगरा को स्मार्ट सिटी बनाने की दिशा में अहम साबित होंगे। विदेशों से आने वाले पर्यटकांे को सुरक्षा के साथ-साथ पीने का पानी उपलब्ध होगा।

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि कोई भी देश, शहर तब तक स्मार्ट नहीं हो सकता, जब तक वहां के नागरिक स्वस्थ्य नहीं होंगे। इसके लिए प्रधानमंत्री स्वास्थ्य योजना के तहत आगरा मेडिकल कॉलेज को 250 से अधिक बेड उपलब्ध कराये जाएंगे। महिला चिकित्सालय में 100 शैय्या का मैटरनिटी विंग तैयार है। इसके साथ ही, सुपर स्पेशियलिटी सेण्टर स्थापित होगा। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना जिसे लोग मोदी केयर भी कहते हैं, के अन्तर्गत मात्र डेढ़ माह में देश के 7 लाख गरीब व्यक्ति इलाज करा चुके हैं। गरीब परिवार इलाज न करा पाने के कारण कष्ट में रहता था, अब वह महंगा इलाज भी प्राईवेट चिकित्सालयों में करा सकेंगे। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन कम से कम 10 हजार लोग इस योजना के तहत अपना इलाज करा रहे हैं।

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि केन्द्र सरकार विकास की पंचधारा बच्चों की पढ़ाई, नौजवानों की कमाई, बुजुर्गों की दवाई, किसानों को सिंचाई व जन-जन की सुनवायी को ध्यान में रख कार्य कर रही है। लघु उद्योगों को सशक्त बनाने की दिशा में तेजी से काम हो रहा है। ‘एक जनपद, एक उत्पाद’ योजना लघु-मध्यम उद्योगों के लिए मील का पत्थर साबित होगी। इस अभियान के अन्तर्गत ‘मेक इन इण्डिया’ को भी बढ़ावा मिल रहा है। लघु व मध्यम उद्योगों के लिए ऑनलाइन ऋण की व्यवस्था करायी जा रही है। अब लघु उद्योग हेतु मात्र 59 मिनट में एक करोड़ रुपए तक के लोन की सैद्धान्तिक मंजूरी मिल रही है।

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि निर्यातकों को ब्याज में 2 प्रतिशत की छूट दी गई है। व्यापारियों को फलने-फूलने के लिए नियमों का सरलीकरण किया गया है। इसी का एक रूप है जी0एस0टी0 में जनसुनवाई के माध्यम से निरन्तर सुधार किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि तमाम प्रकार के अप्रत्यक्ष करों का जनता को पता ही नहीं था। सभी को समाप्त कर लगभग 99 प्रतिशत चीजों को 18 प्रतिशत से कम पर लाया गया है। जागरूक उपभोक्ता इसका पूरा लाभ ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि जी0एस0टी0 काउंसलिंग से सरकार ने अनुरोध किया है कि व्यापार की सीमा 30 लाख से बढ़ाकर 75 लाख तक की जाए। उन्होंने कहा कि ‘सबका साथ, सबका विकास’ सुशासन की आत्मा है। समाज का कोई भी वर्ग अवसरों से वंचित न रहे। इसलिए सामान्य श्रेणी के गरीब लोगों को 10 प्रतिशत आरक्षण की व्यवस्था का ऐतिहासिक निर्णय हमारी सरकार ने लिया और इसे लोकसभा में पास भी कराया। उन्होंने कहा कि देश में विधानसभा व लोकसभा के निर्वाचन एक साथ हों, ताकि पूरे 5 वर्ष सत्ता में आने वाली पार्टी को काम करने का अवसर मिले।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमने सत्ता में आने से पूर्व जो वायदा किया, उसको धरातल पर साकार करने का काम किया। कौशल विकास कार्यक्रम के माध्यम से नौजवानों को स्वावलम्बी बनाने का कार्य किया। उज्ज्वला योजना का लाभ गरीब परिवारों को मिला। ‘स्वच्छ भारत मिशन’ के अन्तर्गत आगरा में 3 लाख 14 हजार शौचालय ग्रामीण क्षेत्र में तथा 15 हजार शौचालय शहरी क्षेत्र में निर्मित हुए हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत शहरी क्षेत्र में 14,629 एवं ग्रामीण क्षेत्र में 3707 आवासों का निर्माण कराया गया। सौभाग्य योजना के तहत पूरे प्रदेश में 94 लाख गरीब व्यक्तियों के घरों में निःशुल्क विद्युत कनेक्शन देने का कार्य किया गया। आगरा में 57,666 लोगों को सौभाग्य योजना के तहत निःशुल्क विद्युत कनेक्शन प्रदान किए गए।

कार्यक्रम को उप मुख्यमंत्री डाॅ0 दिनेश शर्मा, नगर विकास मंत्री श्री सुरेश खन्ना, प्राविधिक एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री आशुतोष टण्डन, पशुधन मंत्री श्री एस0पी0 सिंह बघेल आदि ने भी सम्बोधित किया।

    इस अवसर पर राज्यपाल श्री राम नाईक जी, सांसद श्री महेन्द्र नाथ पाण्डेय, राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष एवं सांसद प्रो0 राम शंकर कठेरिया, सांसद चैधरी बाबूलाल सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com