Tuesday , December 11 2018

विधायक ठुकराल पर महिला से मारपीट और गाली गलौज का आरो

विधायक राजकुमार ठुकराल पर एक बार फिर मारपीट के आरोप लगे हैं। इस बार मामला किसी कोतवाली का नहीं बल्कि उनके घर के बाहर का है। किशोर और किशोरी के घर से भागने के बाद हुई पंचायत में विधायक ने किशोर की मां और बहनों से मारपीट करते हुए गालीगलौज की। इसका वीडियो वायरल होते ही मामला शहर में चर्चाओं में आ गया। इस पर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। साथ ही मामले में मुख्यमंत्री ने एसएसपी से रिपोर्ट भी मांगी है।

दरअसल, ट्रांजिट कैंप, शिवनगर निवासी एक व्यक्ति की 15 साल की बेटी बीते दिनों लापता हो गई थी। इस मामले में उसने इंदिरा कालोनी निवासी एक नाबालिग पर उसकी बेटी को बहला फुसलाकर भगा ले जाने की तहरीर पुलिस को दी थी। साथ ही किशोर के पिता, मां और बहनों पर भी उसका साथ देने का आरोप लगाया था। पुलिस ने सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था। साथ ही दोनों की तलाश शुरू कर दी थी।

किशोर के पिता रामकिशोर उर्फ श्याम ने बताया कि उन्होंने जैसे-तैसे दोनों को शुक्रवार दोपहर घर बुला लिया था। इसके बाद वे लोग पंचायत के लिए विधायक राजकुमार ठुकराल के घर चले गए। जहां आपसी सहमति न होने पर दोनों पक्षों के बीच विवाद हो गया। रामकिशोर उर्फ श्याम का आरोप है कि पंचायत में विधायक राजकुमार ठुकराल समेत कुछ भाजपा नेताओं ने उनके नाबालिग पुत्र से मारपीट कर दी। जब बीच बचाव को उनकी पत्नी माला देवी पुत्री पूजा, सोनम और आरती गई तो उनसे भी विधायक राजकुमार ठुकराल ने गालीगलौज कर मारपीट की।

इससे उसकी पत्नी और पुत्रियां घायल हो गई। साथ ही उनके रिश्तेदारों से भी मारपीट की गई। इसके बाद वह उनके नाबालिग पुत्र को वाहन में बिठाकर ट्रांजिट कैंप थाना ले गए। जहां शनिवार को पुलिस ने किशोरी का मेडिकल कराकर परिजनों के सुपुर्द कर दिया। जबकि किशोर को बाल सुधार गृह भेज दिया था।

इधर, शनिवार को विधायक राजकुमार ठुकराल की किशोर के बहनों और परिजनों से मारपीट का वीडियो वायरल हो गया। वीडियो वायरल होते ही शहर में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया। मामला मुख्यमंत्री तक पहुंचा तो उन्होंने भी एसएसपी यूएसनगर डा.सदानंद दाते से रिपोर्ट मांगी है।

वहीं मामले पर विधायक ठुकराल का कहना है कि उन पर लगाए गए आरोप झूठे हैं। कुछ दिन पहले एक किशोरी को लेकर इंदिरा कालोनी निवासी युवक भाग गया था। इस मामले में ट्रांजिट कैंप थाने में भी मुकदमा दर्ज है। शुक्रवार को घबराहट में पंचायत के लिए वह उनके पास आए। उन्होंने दोनों पक्षों को किशोर और किशोरी के बालिग होने पर विवाह कराने को कहा, लेकिन वह राजी नहीं हुए। इस पर मामला थाने ले जाने की बात हुई। इसके लिए उन्होंने ट्रांजिट कैंप थाना पुलिस को कॉल भी किया। जब तक पुलिस पहुंचती दोनों पक्षों में मारपीट हो गई। अपने घर के बाहर हो रही मारपीट देख उन्होंने दोनों पक्षों को अलग किया।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com